Category: DC जनित्र

DC जनित्र full Lession

LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 9LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 9

> कम्युटेशन को निम्न तीन प्रकार से कम किया जा सकता है 1.उच्च प्रतिरोध वाले कार्बन ब्रुश के प्रयोग से 2 .प्रतिरोध तार के प्रयोग से 3 अंतराध्रुवो (ईन्टरपोलो) को मुख्य ध्रुवो के बीच स्थपित करके > ईन्टरपोलो को आर्मेचर के सिरीज मे जोडा जाता है। > ईन्टरपोलो कि ध्रुवता आर्नीचर के घूमने कि दिशा […]

LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 8LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 8

> विभेदिय यौगिक जनित्र मे यदि सिरीज क्षेत्र द्वारा उत्पन्न फ्लक्स् शन्ट क्षेत्र का विरोध करता है, इस क्रिया को बकिंग कहते है > एक संचयी यौगिक जनित्र मे कम्पार्डिंग के स्तर को सिरीज क्षेत्र धारा के परिमाण मे परिवर्तन से किया जाता है। > विभेदिय यौगिक जनित्र में लोड बढ़ने पर टर्मिनल वोल्टेज का […]

LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 7LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 7

> डी.सी. सिरीज जनित्र को बिना लोड के नहि चलाना चहिये, अन्यथा यह पूर्ण विध्युत वहक बल उत्पन नहि कर पायेगा ( बिना लोड के सिरीज फिल्ड का चुम्बकीय क्षेत्र अवशिष्ट चुम्बकीय क्षेत्र के बराबर होगा धारा प्रवाह शून्य होग ) > डी.सी सिरीज जनित्र का प्रयोग डी.सी पारेषण लाईन मे बूस्टर जनित्र के रूप […]

LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 6LESSION 9 DC जनित्र SHORT TRICK PART 6

> लैप वाईडिंग एक प्रकार कि सामांतर वाईडिंग है जिसका प्रयोग उच्च धारा ऐवं कम वोल्टेज वाली मशीन में किया जाता है। > वैव वाईडिंग एक प्रकार कि सिरीज वाईडिंग है जिसका प्रयोग उच्च वोल्टेज ऐवं कम धारा वाला मशीन मे किया जाता है > लैप वाईडिंग मे समांतर पथो कि संख्यापोलो कि संख्या के […]