lession   = 12  कन्वर्टर



online courses on digital marketing

                                       कन्वर्टर

> ए0सी0 को डी0सी0 मे बदलने वाली मशीन कन्वर्टर कहलाती है।

> डी0सी0 को ए0सी0 में बदलने वाली मशीन इन्वर्टर कहलाती है।

> एकल मशीन जो ए0सी0 को डी0सी0 व डी0सी0 को ए0सी0 में बदल सकती है।

रोटरी कन्वर्टर कहलाती है।

> मोटर जनरेटर सैट का उपयोग ए0सी0 को डी0सी0 में बदलने के लिए किया

जाता है।

> ए0सी0 को डी0सी0 में बदलने के लिए प्रयुक्त की गई स्थिर युक्ति डायोड

या SCR कहलाती है।

> ए0सी0 को डी0सी0 में बदलने की प्रक्रिया को रेक्टीफिकेशन कहते है।

> रोटरी कoटर दो प्रकार के होते है । (1 )सिंगल फेज (2) थ्री फेज ।

> रोटरी कन्वेंटर को जब ए0सी0 स्त्रोत से संयोजित किया जाता है तो वह ओटो

सिंक्रोन्स मोटर की भांति स्टार्ट हो जाती है। तथा कम्यूटेटर से डी0सी0 प्राप्त हो

जाती है।

> रोटरी काउंटर को प्राइम मूवर (यान्त्रिक ऊर्जा) से चलाने पर ए0सी0 तथा

डी0सी0 दोनो प्राप्त होती है।

> मैटल रेक्टीफायर मुख्यतः निम्न दो प्रकार के होते है। (1) सिलीनियम मैटल

रैक्टीफायर (2) कॉपर ऑक्साइड मैटल रैक्टीफायर।

> जो युक्ति केवल एक ही दिशा में विद्युत धारा का प्रभावी प्रवाह होने देती है।

डायोड या रैक्टीफायर कहलाती है।

> इन्वेंटर दो प्रकार के होते है।  (1) रोटरी इन्वेंटर (2) इलेक्ट्रोनिक इन्वेंटर

online courses on digital marketing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *